Poem – मछली जल की रानी है

0
1230

मछली जल की रानी है ,

जीवन उसका पानी है ,

हाथ लगाओ डर जाएंगी ,

बाहर निकालो मर जाएंगी ||